Ticker

6/recent/ticker-posts

सांपो से जुड़े 5 ऐसे झूठ जिन्हें लोग मानते है सच

दोस्तो सांपो को लेकर कई तरह के अन्धविश्वास और भ्रम फैले हुए है। फिल्मों और कहानियों में सांपो को लेकर कुछ ऐसी अजीबोगरीब चीज़े बताई जाती है, जो एकदम झूठ और बेमतलब है। इस आर्टिकल मे मैं सांपो को लेकर बने कुछ अन्धविश्वशों से पर्दा उठाऊंगा। आशा करता हु की आपको हमारा ये पोस्ट जरूर पसंद आएगा।


क्या सच में सांप दूध पीते है?

हमारे देश मे सांपो को लेकर लोगो ने कुछ अपनी ही धारणाएं बना रखी है और उनमें से एक धरना ये है कि सांप दूध पीते है। आपने देखा होगा कि मंदिरों में लोग अक्सर सांपो की मूर्तियों को दूध पिलाते दिखाई देते है और अगर कही सांप दिख भी जाए तो उसके लिए दूध की कटोरी रख देते है। वैज्ञानिक दृष्टिकोण से देखा जाए तो सांपो को दूध पिलाना एक बेवकूफी है। सांप एक मांसाहारी जीव है, जो मेंढक, चूहा, पक्षियों के अंडे व अन्य छोटे-छोटे जीवों को खाकर अपना पेट भरता है। दूध सांपो के लिए प्राकृतिक आहार नही है।

आपने सपेरों को ही अक्सर सांपो को दूध पिलाते देखा होगा। सपेरों के पास मौजूद सांप मांस न मिलने की वजह से अक्सर भूखे रहते है और भूखे प्यासे सांप के सामने जब दूध लाया जाता है तो वो इसे आराम से पी लेता है। कई बार भूख के चलते ज्यादा दूध पीने से सांपो की मौत भी हो जाती है क्योंकि हड़बड़ाहट में दूध उनके फेफड़ों में चला जाता है, जिससे उन्हें निमोनिया हो जाता है।

क्या सच मे सांप बीन पर नाचते है?

दोस्तो आपने फिल्मों और कहानियों में सांप को बीन के आगे नाचते हुए जरूर देखा होगा और कई बार कुछ सपेरे भी सांपो के सामने बीन बजाकर उन्हें नचाने का दावा करते है। आपको बता दें कि ये सो फीसदी अंधविश्वास है, क्योंकि सांपो के पास कान ही नही होते। सांप अपने आस पास मौजूद आवाज़ पर कोई प्रतिक्रिया जाहिर नही करते लेकिन धरती की सतह पर होने वाली कंपनों को वे अपने निचले जबड़े में मौजूद एक खास हड्डी के जरिए महसूस कर लेते हैं। सांपो की नज़र स्थिर वस्तुयों की बजाए हिलती झूलती वस्तुयों को देखने मे ज्यादा सक्षम होती है। सपेरे जब सांप के आगे इधर उधर बीन लहराते हैं तो सांप बीन के ऊपर अपनी नज़र टिका लेता है और बीन के हिसाब से अपने शरीर को लहराता है और लोग समझते है कि सांप बीन की धुन पर नाच रहा है।

क्या सांप में मणि होती है?

दोस्तो सांपो से जुड़ा एक और बड़ा झूठ ये है कि सांपो के सिर में एक बेशकीमती मणि होती है जो एक बार किसी इंसान को मिल जाए तो उसकी किस्मत हमेशा के लिए चमक जाती है। आपकी जानकारी के लिए बता दे कि पूरे विश्व मे अब तक 4000 से ज्यादा अलग अलग  प्रजातियों के करोड़ो सांप पकड़े जा चुके है, लेकिन किसी भी सांप से मणि बरामद नही हुई।

क्या सच मे सांप उड़ते है?

दोस्तो वैसे तो सांपो में उड़ने की क्षमता नही होती, लेकिन भारत और दक्षिण पूर्वी एशिया के वर्ष जंगलो में एक ऐसा अनोखा सांप है जो बड़ी-बड़ी छलांगे लगाने में माहिर है। इस सांप का नाम फ्लाइंग स्नेक रखा गया है। ये सांप अपना ज्यादातर समय पेड़ो के ऊपर बतीत करते है। ये सांप एक पेड़ से दूसरे पेड़ पर जाने के लिए अपने शरीर को सिकोड़कर छलांग लगा देते है। जब काफी उचाई से ये सांप छलांग लगाते हैं तो देखने वाले को ऐसा प्रतीत होता है कि जैसे ये सांप हवा में उड़ रहा हो। इस छलांग से ये सांप 100 मीटर तक कि दूरी तय कर लेते है।

क्या सच मे सांप बदला लेते है?

दोस्तो हम फिल्मों और कहानियों में अक्सर ऐसा देखते और पड़ते आए हैं कि अगर कोई इंसान सांप को मार दे तो उस सांप की आंखों में कातिल इंसान की तस्वीर छप जाती है, जिसे पहचान उस सांप का साथी कातिल इंसान का पीछा करता है और उसे काटकर हत्या का बदला लेता है। आपको बता दे कि सांपो से जुड़ा ये अब तक का सबसे बड़ा अंधविश्वास है। इस बात को अगर वैज्ञानिक दृष्टिकोण से देखे तो सांप का मस्तिष्क इतना ज्यादा विकसित नही होता है की वो किसी घटना को याद रख सकें।

विज्ञानिको के अनुसार जब किसी सांप की मौत होती है तो वह अपने गुदा द्वार से एक खास तरह की गंध छोड़ता है जो उस प्रजाति के अन्य सांपों को आकर्षित करती है। इस गंध को सूंघकर अन्य सांप मरे हुए सांप के पास आते हैं, जिन्हें देखकर ये समझ लिया जाता है कि अन्य सांप अपने मरे हुए सांप की हत्या का बदला लेने आए हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ