Ticker

6/recent/ticker-posts

अपने ही जाल में क्यों नही फंसती मकड़ी, बेहद दिलचस्प है कारण

दोस्तो मकड़ी अपने शिकार को फंसाने के लिए जाल बुनती है। छोटे-छोटे कीड़े इस जाल में आसानी से फंस जाते हैं। इन कीड़ों का जाल से निकलना काफी मुश्किल होता है। लेकिन आपने कभी गौर से देखा होगा तो पाया होगा कि मकड़ी खुद उस जाल में एक-जगह से दूसरे जगह आसानी से घूम लेती है। क्या आपको पता है कि ऐसा क्यों होता है? अगर नही पता तो चलिए जानते हैं।

मकड़ी का पूरा जाल चिपकने वाला नहीं होता। वह इसका कुछ ही हिस्सा चिपचिपा बुनती है। जाल का वो हिस्सा जहां मकड़ी खुद आराम से रहती है, वह बिना चिपचिपे पदार्थ के बनाया जाता है। इसलिए वह आसानी से इसमें घूम लेती है। 
वैसे अपने ही जाल में फंसने से बचने के लिए मकड़ी एक और तरकीब निकालती है। वह रोजाना अपने पैर काफी अच्छे से साफ करती है ताकि इन पर लगी धूल और दूसरे कण निकल
जाएं।
कुछ वैज्ञानिक मानते हैं कि मकड़ी का पैर तैलीय होता है, इसलिए वह जाल में नहीं फंसती और इसमें घूमती रहती है। लेकिन सच यह है कि मकड़ियों के पास ऑयल ग्लैंड्स (ग्रंथियां) नहीं होते हैं। वहीं कुछ वैज्ञानिक इसकी वजह मकड़ी की टांगों पर मौजूद बालों को मानते हैं जिन पर जाले की चिपचिपाहट का कोई असर नहीं होता है।

मकड़ियों इसे जुड़ी दिलचस्प बातें

1. क्या आप जानते हैं विश्व में लगभग 45000 अलग अलग तरह की मकडिया निवास करती है अर्थात अब तक 45000 मकड़ियों की प्रजाति खोजी जा चुकी है।

2. मकड़ियां भोजन के लिए कीट,पतंगे,मच्छर,चींटी, आदि का शिकार करती हैं और यह माँसाहारी जीवो की श्रेणी में आती है.लेकिन Bagheera Kipling' मकड़ियों की एक प्रजाति है जो कि शाकाहारी होती है।

3. मकड़ियों की एक प्रजाति का नाम Crab Spider है जो कि जगह के हिसाब से रंग बदल सकती है।

4. क्या आप जानते हैं मात्र अंटार्कटिका को छोड़कर संपूर्ण विश्व में मकड़ियां पाई जाती हैं।

5. मकड़ियों के खून का रंग नीला होता है।
6. आपको जानकर आश्चर्य होगा एक इंसान के 10 फीट के दायरे में एक मकड़ी अवश्य होती है।

7. दुनिया की सबसे बड़ी मकड़ी का नाम Goliath Birdeater या Theraphosa Blondi है और ये  मेंढक, छिपकली, चूहे और यहाँ तक कि एक साँप का भी शिकार कर सकती है।

8. आपकी जानकारी के लिए बता दें एक सामान्य मकड़ी आकार 0.2 मिलीमीटर से लेकर 9 सेंटीमीटर तक हो सकता है।

9. आपको जानकर हैरानी होगी पूरी धरती पर , आबादी के मामंले में मकड़ियाँ 7 वे नंबर पर आती है।

10. क्या आप जानते हैं मकड़ियों के दांत नहीं होते और वह अपने भोजन को चबाने की बजाय सीधा निकल लेती है।

दोस्तों आशा करता हूं कि आपको हमारा यह पोस्ट जरूर पसंद आया होगा। इसे अपने दोस्तों और फैमिली के साथ शेयर करना न भूले।


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ