Ticker

6/recent/ticker-posts

जानिए कैसे बनता है Black Water? Normal water और Black Water में क्या अंतर है

दोस्तो आजकल जितने भी बड़े-बड़े सेलिब्रिटीज हैं सभी के बीच 'Black Water' जानि काले रंग का पानी पीने का ट्रेंड काफी तेज़ी से बढ़ रहा है। इस पानी की क्या खासियत है और ये पानी ब्लैक क्यों है? इसका जवाब जानने के लिए पोस्ट को आखिर तक जरूर पढ़ें।


दोस्तो ब्लैक वाटर दरअसल उस पानी को कहा गया है, जिसमे Fulvic नाम का एक एसिड मौजूद रहता है। इस तरह के पानी को 'फुलविक वाटर' और 'नेचुरल मिनरल एल्कलाइन वाटर' भी कहा जाता है। इस पानी मे फुलविक एसिड की मौजूदगी ही इसके ब्लैक होने का एकमात्र कारण है। इस पानी की खास बात ये है कि इसका PH और खारापन नार्मल पानी के मुकाबले ज्यादा होता है। इस तरह का पानी हमारी सेहत के लिए काफी अच्छा रहता है।

इस पानी मे मौजूद 'फुलविक एसिड' इस पानी का मेन एक्टिव कॉम्पोनेन्ट है, जो इस पानी को दूसरे किसी पानी से अलग बनाता है। फुलविक एसिड दरअसल पहाड़ो के ऊपर आर्गेनिक मैटर्स के गलने-सड़ने से तैयार होने वाला काले रंग का एक चिपचिपा पदार्थ है। आपको जानकर हैरानी होगी कि भारतीय आयुर्वेदिक दवाईयों में फुलविक एसिड का इस्तेमाल हज़ारो साल पहले से किया जा रहा है। फुलविक एसिड दरअसल पहाड़ो से निकलने वाली शिलाजीत का ही एक रूप है। साइंस के मुताबिक शिलाजीत में 15 से 20 प्रतिशत फुलविक एसिड पाया जाता है।

ब्लैक वाटर के फायदे:
  1. ये पानी इम्यून सिस्टम को मजबूत करता है।
  2. हड्डियों और मासपेशियां को मजबूत बनाने में मदद करता है।
  3. ब्लड प्रेशर को सामान्य रखता है।
  4. ये पानी एसिडिटी के साथ साथ कब्ज आदि से भी आराम दिलाता है।
  5. प्रेग्नेंसी के दौरान इस पानी का सेवन काफी फायदेमंद रहता है। ये पानी विटामिन्स की कमी को पूरा करता है।
  6. एंटीऑक्सीडेंट और एंटीएजिंग गुणों से भरपूर यह पानी बढ़ती उम्र के प्रभाव को धीमा करने में मदद करता है।
  7. बालों को हेल्थी रखने में ये पानी काफी मदद करता है।
दोस्तो पोस्ट अच्छा लगा हो तो इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर जरूर करें।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ